Thursday, October 15, 2015

घर से जुड़े ये वास्तुदोष पैसों के नुकसान का कारण बनते हैं


                        Image result for godrej cash box pictures               Image result for godrej cash box pictures

कई बार लगातार पैसों के नुकसान का कारण वास्तु संबंधी दोष भी हो सकते हैं। कई लोग चाहे कितनी ही कोशिश कर लें, लेकिन वे अपने धन को संभाल कर नहीं रख पाते। चाहते हुए भी उन्हें लगातार पैसों का नुकसान होता ही रहता है। ऐसे में इसका कारण समझ पाना बहुत मुश्किल हो जाता है। वास्तु के इन कारणों को ध्यान में रख कर पैसों के नुकसान से बचा जा सकता है।

 


1.   धन रखने की दिशा

 धन में वृद्धि के लिए तिजोरी का मुंह उत्तर दिशा की ओर रखना सबसे अच्छा माना जाता है। उसे दक्षिण दिशा में  इस तरह रखें की इसका मुंह उत्तर दिशा की ओर रहे।

2.   नल से पानी टपकना

घर के नलों से पानी का टपकते रहना भी वास्तुशास्त्र में आर्थिक नुकसान का बड़ा कारण माना गया है। वास्तु के नियम के अनुसार, नल से पानी का टपकते रहना धीरे-धीरे धन के खर्च होने का संकेत होता है। इसलिए नल में खराबी जाने पर तुरंत बदल देना चाहिए।

3.   बेडरूम में लगाएं धातु की चीजें

बेडरूम में गेट के सामने वाली दीवार के बाएं कोने पर धातु की कोई चीज लटकाना चाहिए। वास्तुशास्त्र के अनुसार, यह स्थान भाग्य और संपत्ति का क्षेत्र होता है। इस दिशा में दीवार में दरारें आदि नहीं होना चाहिए। इस दिशा का कटा होना भी आर्थिक नुकसान का कारण होता है।

4.   घर में रखें कबाड़

घर में टूटे-फूटे बर्तन, टूटा हुआ पलंग, अलमारी या लकड़ी का अन्य सामान घर में नहीं रखना चाहिए। कबाड़ को जमा करके रखने से घर में नेगेटिव ऊर्जा फैलती है। इससे आर्थिक लाभ में कमी आती है और खर्च बढ़ता है। कबाड़ को छत पर या सीढ़ियों के नीचे जमा करके रखना भी आर्थिक नुकसान का कारण बनता है।

5.   ध्यान रखें पानी की निकासी

वास्तुशास्त्र के अनुसार जिनके घर में जल की निकासी दक्षिण या पश्चिम दिशा में होती है उन्हें आर्थिक समस्याओं के साथ अन्य कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। उत्तर दिशा एवं पूर्व दिशा में जल की निकासी आर्थिक दृष्टि से शुभ माना गया है।