Monday, December 7, 2015

घर में बिना तोड़-फोड़ किए भी बचा जा सकता हैं वास्तुदोषों से

Image result for drinking water pictures



घर में पानी पीते समय ध्यान रखें की मुंह हमेशा उत्तर-पूर्व दिशा की ओर ही हो, ऐसा करने से वास्तुदोष की वजह से होने वाली बीमारियों से बच सकते हैं।


Image result for eat pictures





खाना खाते समय थाली पूर्व-दक्षिण दिशा की ओर रखें और अपना मुंह पूर्व दिशा की ओर रख कर खाना खाएं।



सोते समय सिर दक्षिण-पश्चिम या दक्षिण दिशा की ओर रखें, ऐसा करने से गहरी नींद आएगी और बुरे या डरावने विचार मन में नहीं आएंगे।


घर में पूजन कक्ष ईशान कोण यानी पूर्व और उत्तर दिशा के बीच बनाएं और हनुमानजी की मूर्ति को दक्षिण-पश्चिम दिशा में स्थापित करें। इससे घर में सुख-शांति बढ़ेगी।

धन-संपत्ति पाने के लिए घर के मुख्य द्वार पर लक्ष्मी, गणेश, कुबेर स्वास्तिक, ऊँ आदि मांगलिक चिह्न बनाना अच्छा माना जाता है।



Image result for water pump


घर में जेट पम्प की बोरिंग उत्तर-पूर्व दिशा में ही करवानी चाहिए। 


Image result for god cow images


घर के किसी भी सदस्य के खाना खाने से पहले, खाने का थोड़ा सा भाग रोज गाय को खिलाना चाहिए। ऐसा करने से मान-सम्मान की प्राप्ति होती है।




घर के बारह आंगन में हरे-भरे पेड़-पौधे लगाएं, इनसे घर में पॉजिटिव एनर्जी फैलती है। घर में सजाएं गए फूलों को रोज बदलें, सूखे या बासी फूल भी वास्तुदोष का कारण बन सकते हैं।

धन में वृद्धि और बचत के लिए तिजोरी को दक्षिण दिशा में इस तरह रखें की इसका मुंह उत्तर दिशा की ओर रहे।

Image result for sandalwood agarbatti



वास्तु दोष को कम करने के लिए और मानसिक तनाव से बचने के लिए घर में चंदन से बनी अगरबत्ती जलाएं। इससे तनाव कम होता है और शांति मिलती है।







                                  Image result for vastu picture for factory

गर्व से कहो हम हैं इंडियन